मल्लिकार्जुन खड़गे ने कांग्रेस को 128 सीटें मिलने की भविष्यवाणी की, राहुल गांधी को पीएम उम्मीदवार के तौर पर समर्थन दिया |

कांग्रेस पार्टी प्रमुख मल्लिकार्जुन खड़गे ने शनिवार को सातवें और अंतिम दौर के मतदान से एक दिन पहले मीडिया को दिए साक्षात्कार में कहा कि पार्टी को उम्मीद है कि वह लोकसभा चुनाव में 128 सीटें जीतेगी और भाजपा को लगातार तीसरी बार जीतने से रोकेगी।

कांग्रेस पार्टी प्रमुख मल्लिकार्जुन खड़गे ने शनिवार को सातवें और अंतिम दौर के मतदान से एक दिन पहले मीडिया को दिए साक्षात्कार में कहा कि पार्टी को उम्मीद है कि वह लोकसभा चुनाव में 128 सीटें जीतेगी और भाजपा को लगातार तीसरी बार जीतने से रोकेगी। खड़गे ने कहा, “हमें जो रिपोर्ट मिली हैं, उससे हमें पूरा भरोसा है कि हम भाजपा को सत्ता में वापस आने से रोक लेंगे। हमारा मानना ​​है कि कांग्रेस पहले ही 100 सीटों का आंकड़ा पार कर चुकी है और हमें 128 सीटें जीतने की उम्मीद है।”

वरिष्ठ नेता ने यह भी दावा किया कि कांग्रेस के नेतृत्व वाले विपक्षी दल इंडिया ब्लॉक की पार्टियां एक-दूसरे को अपने वोट हस्तांतरित करने में सफल रहीं।

उन्होंने यह भी बताया कि भारतीय दल बैठक में क्या चर्चा करेंगे। बैठक शनिवार को उनके द्वारा बुलाई गई बैठक में यह बात कही गई।

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, “हमने यह बैठक यह सुनिश्चित करने के लिए बुलाई है कि मतगणना में कोई दखलंदाजी न हो। हम हर नेता को बताएंगे कि ईवीएम (इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन) से छेड़छाड़ कैसे होती है और यह कैसे सुनिश्चित किया जाए कि छेड़छाड़ न हो।”

Related :  एग्जिट पोल 2024 के नतीजे: 5 पोलस्टर्स ने लोकसभा चुनाव में बीजेपी के नेतृत्व वाले एनडीए को 350 से अधिक सीटें मिलने का अनुमान लगाया

हालांकि भारतीय जनता पार्टी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के खिलाफ प्रधानमंत्री पद का कोई उम्मीदवार पेश नहीं किया है, लेकिन खड़गे ने देश के शीर्ष पद के लिए वरिष्ठ कांग्रेस सदस्य राहुल गांधी का समर्थन किया, जो इस पुरानी पार्टी के पूर्व अध्यक्ष भी हैं।

खड़गे ने कहा, “प्रधानमंत्री के रूप में राहुल गांधी मेरी पसंद हैं। वह युवाओं और पूरे देश का प्रतिनिधित्व करते हैं।” सुझाव दिया उन्होंने कहा कि तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ममता बनर्जी और आप के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने पहले तो प्रधानमंत्री पद के लिए उनका नाम प्रस्तावित किया, लेकिन बाद में उन्होंने खुद ही इनकार कर दिया।

लोकसभा चुनाव के लिए मतों की गिनती 4 जून को होगी। कांग्रेस 2014 में 44 और पांच साल बाद 52 सीटों के अपने आंकड़े को बेहतर करना चाहती है। दोनों बार भाजपा ने अकेले दम पर बहुमत हासिल किया था, जिसे वह इस साल भी हासिल करने की उम्मीद कर रही है।