Headlines

एम्बरग्रीस बेहद कीमती पदार्थ,की तस्करी 3 लोग गिरफ्तार, कीमत है 30 करोड़, जाने क्या है ऐसा?


नेशनल न्यूज़।साझा ऑपरेशन में गिरोह के तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया. केरल के त्रिशूर जिले से करीब 30 करोड़ रुपये की कीमत की एम्बरग्रीस (Ambergris) जब्त की गई. वन अधिकारियों के अनुसार, यह पहली बार है जब केरल में एम्बरग्रीस बेचने वाला गिरोह पकड़ा गया है. केरल वन विभाग के उड़न दस्ते और वाइल्ड लाइफ क्राइम कंट्रोल नियंत्रण ब्यूरो (Natural life Wrongdoing Control Agency) द्वारा किए गए एक साझा ऑपरेशन में गिरोह के तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया. एम्बरग्रीस त्रिशूर के चेट्टुवा इलाके से जब्त की गई. साथ ही रफीक और फैसल व एर्नाकुलम निवासी हम्सा को वन विभाग द्वारा गिरफ्तार भी किया गया है. सर्वे में सामने आई ये बात बता दें कि काला बाजार में एम्बरग्रीस बेचने की सूचना मिलने पर वन विभाग की ओर से चलाए गए ऑपरेशन में ये तीनों आरोपी पकड़े गए. वन अधिकारियों ने एम्बरग्रीस खरीदने आए संदिग्धों से संपर्क किया और उन्हें भी पुलिस की मदद से गिरफ्तार कर लिया. जब्त किए गए एम्बरग्रीस का वजन लगभग 19 किलोग्राम है और अंतरराष्ट्रीय बाजार में ये बहुत ऊंची कीमत पर बिकता है. लेकिन भारत में वन्यजीव संरक्षण अधिनियम के अनुसार, इसे बेचना या खरीदना दंडनीय अपराध है. फिलहाल अभी तक यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि आरोपी को यह एम्बरग्रीस कैसे मिला.

एम्बरग्रीस क्या है?

एम्बरग्रीस को व्हेल वोमिट भी कहा जाता है, इसकी तस्करी बड़े पैमाने पर की जाती है. एम्बरग्रीस व्हेल की उल्टी के अलावा और कुछ नहीं है. यह एक भूरे रंग का मोम जैसा पदार्थ है जो स्पर्म व्हेल के पेट में बनता है. यह पदार्थ, जिसे व्हेल द्वारा उल्टी की जाती है, समुद्र के पानी में तैरता हुआ पाया जाता है. मध्य पूर्व में ओमान का तटीय क्षेत्र एम्बरग्रीस के लिए प्रसिद्ध है. यह इत्र बाजार में सोने जितना ही मूल्यवान है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *