Homecgnewsछत्तीसगढ़ जमीन में गड़ा सोना निकालने का झांसा, बैंक कर्मी सहित 7...

छत्तीसगढ़ जमीन में गड़ा सोना निकालने का झांसा, बैंक कर्मी सहित 7 से ठगे 14 लाख रुपये, 3 गिरफ्तार..

छत्तीसगढ़ के सूरजपुर जिले में तंत्र विद्या के जरिए जमीन में गड़ा बेशकीमती धन निकालने का झांसा देकर सेंट्रल बैंक सूरजपुर के कर्मचारी सहित आधा दर्जन से अधिक लोगों से 14 लाख रुपये की ठगी कर ली गई। मामले की शिकायत के बाद कोतवाली पुलिस ने कोरबा निवासी 2 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। एक अन्य आरोपी को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। मामले का मास्टरमाइंड अब तक फरार है। अंधविश्वास में रकम लुटाने

सूरजपुर एसपी रामकृष्ण साहू ने बताया कि शनिवार को ग्राम खोड़ रमकोला निवासी अभिषेक प्रताप सिंह (27 वर्ष) ने कोतवाली थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। वह सूरजपुर सेंट्रल बैंक में बीसी के पद पर कार्यरत हैं। 21 जून को बैंक में कोरबा निवासी विमल सिंह ठाकुर ने बातचीत के दौरान कहा था कि वह तंत्र विद्या से गड़ा धन निकालने का काम करता है। अभिषेक गड़ा धन की लालसा में उसके झांसे में आ गया। दूसरे दिन विमल सिंह ठाकुर अपने साथी नरेश कुमार पटेल, मनोज कुमार केंवट एवं अशोक दास के साथ आर्टिका वाहन में उसके पास पहुंचे। बातचीत से उसे पूरी तरह अपने झांसे में लिया।

बर्तन में लाल कपड़ा बांधकर घर में रखवाया
गड़ा धन निकालने की योजना बनाने के बाद विमल सिंह ठाकुर ने मोबाइल के जरिए उससे बातचीत कर 20 हजार रुपये भेजने को कहा। चारों आरोपी सूरजपुर और बैंक कर्मचारी अभिषेक प्रताप के साथ उसके घर ग्राम खोड़ चले गए। तंत्र-मंत्र करने के बाद जमीन से एक बर्तन निकाला और उसे लाल कपड़े में बांधकर घर के एक कमरे में रखवा दिया। बर्तन को नहीं छूने की हिदायत देकर विमल सिंह ठाकुर तंत्र-मंत्र का सामान लेने की बात कहकर चले गए। अभिषेक प्रताप से तंत्र-मंत्र का सामान खरीदने के लिए 4 लाख रुपये की डिमांड की।

10 लाख देने पर सोना निकालने की बात कही
अभिषेक ने अपने साथी विजय, मोतीलाल एवं स्वयं की रकम मिलाकर अपने भाई अशोक सिंह के माध्यम से साढ़े 3 लाख रुपये विमल सिंह ठाकुर के पास कोरबा भिजवाया। उसके बाद चारों आरोपित 4 अगस्त को पुनः आर्टिका कार से सूरजपुर पहुंचे, जहां उन्होंने फिर 10 लाख रुपये देने पर ही पूजा पाठ कर सोना निकालने की बात कही। पूर्व में मोटी रकम देकर फंस चुके अभिषेक प्रताप ने फिर अपने परिचित मनोज, निर्भय, अशोक सिंह, सविदेश सिंह, तौफीक रजा, इसखार खान से रकम लेकर 9 लाख 90 हजार रुपये फिर दे दिए। रकम लेने के बाद चारों आरोपित उन्हें चकमा देकर भाग निकले।

कोरबा में पकड़ाए दो आरोपी, मास्टर माइंट फरार
कोतवाली पुलिस ने कोरबा में दबिश देकर 3 आरोपियों को धर दबोचा। इनमें से घटना में प्रयुक्त अर्टिगा कार के मालिक मनोज कुमार केंवट (43 वर्ष) एवं अशोक दास (33 वर्ष) को गिरफ्तार कर लिया गया है। विमल कुमार ठाकुर को कोतवाली पुलिस हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। मामले का मास्टर माइंड नरेश कुमार पटेल अभी भी फरार है। नरेश कुमार पटेल एनटीपीसी कोरबा में कार्यरत बताया गया है।

Gopi Soni
Gopi Sonihttps://24cgnews.com
Never stop learning, because life never stops teaching
Stay Connected
3,000FansLike
2,458FollowersFollow
15,000SubscribersSubscribe

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here