HomeBUSINESS NEWSBluWheelz ने EV Industry में रखा कदम, अगले वर्ष तक अपने बेड़े...

BluWheelz ने EV Industry में रखा कदम, अगले वर्ष तक अपने बेड़े में 10,000 इलेक्ट्रिक वाहनों को शामिल करने का लक्ष्य

BluWheelz EV Industry - India TV Hindi News
Photo:INDIA TV/VIKASH TIWARY BluWheelz ने EV Industry में रखा कदम

EV Industry: जिस तेजी के साथ भारत में नई कंपनियां इलेक्ट्रिक ऑटोमोबाइल मार्केट (Electric Automobile Market) में कदम रख रही हैं। वो दिन दूर नहीं जब भारत इलेक्ट्रिक ऑटो मार्केट का हब बन गया हो। हाल ही में BluWheelz Mobility Services Private Limited (BluWheelz) ने इस EV इंडस्ट्री में कदम रखा है। कंपनी अगले वर्ष तक अपने बेड़े में 10,000 इलेक्ट्रिक वाहनों (EVs) को शामिल करने का लक्ष्य रखी है। इसके लिए 15 मिलियन डॉलर का खर्च आने की संभावना है।

कब हुई लॉन्च?

दिल्ली के Jaypee vasant continental में मंगलवार को BluWheelz की लॉन्चिग हुई। कंपनी वर्तमान में पेट्रोल-डीजल पर आधारित लॉजिस्टिक्स सर्विस को EV में कंवर्ट करना चाहती है। कंपनी के CEO चनप्रीत सेठी (Chanpreet Sethi) ने उद्घाटन के मौके पर कहा कि एक EV सेवा के रूप में डिलीवरी की आवश्यकता आने वाले समय में और अधिक बढ़ने वाली है। अगले एक वर्ष में EV इंडस्ट्री के दस गुना बढ़ने की उम्मीद है। ऑटो उद्योग, बढ़ती ईंधन लागत, अस्थिर तेल अर्थव्यवस्था और बड़े पैमाने पर जलवायु परिवर्तन से हम और आप जूझ रहे हैं। ऐसे में EV इन समस्याओं का बेहतर समाधान करने में सक्षम होगी। अगर आप लागत की बात करें तो ओवरऑल लाकत ईंधन वाली गाड़ी की तुलना में 10% कम आएगी। अगर आप गाड़ी खरीदने के बाद 4-5 साल भी उसका इस्तेमाल करते हैं। 

इंडिया टीवी से बातचीत में भविष्य में बैटरी के रिसाइकिल के लिए किस तरह के प्लान तैयार किए जा रहे हैं? के जवाब में चनप्रीत सेठी ने कहा कि आने वाले समय में कंपनी रिसाइकलिंग के लिए भी नई तकनीक विकसित कर लेगी फिलहाल हम इस समय बैटरी को 70 प्रतिशत रिकवर कर ले रहे हैं। भविष्य में इसे 100% रिकवर करने की कोशिश रहेगी। 

एक ऐप में पूरी सुविधा देने की कोशिश

कंपनी ने इसके लिए AI पर आधारित एक ऐप बनाया है, जिसमें बैटरी चार्ज होने से लेकर, डिलीवरी एजेंट के उपस्थिति और उसके काम से संबंधित सभी डिटेल पर नजर रखा जा सकेगा। इसमें शिकायत करने की भी सुविधा दी गई है। कंपनी ने ‘बोल्ट’ के साथ चार्जिंग स्टेशन बनाने के लिए समझौता किया है। कंपनी का कहना है कि सरकार के तरफ से उसे प्रोत्साहित किया जा रहा है। ईवी इंडस्ट्री (EV Industry) को मजबूत करने के लिए सरकार काम कर रही है। आने वाला भविष्य इलेक्ट्रिक वाहनों का होने वाला है। 

Latest Business News

window.addEventListener('load', (event) => { setTimeout(function(){ loadFacebookScript(); }, 7000); });



Source link

Stay Connected
3,000FansLike
2,458FollowersFollow
15,000SubscribersSubscribe

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here