HomeBUSINESS NEWSDandera Ventures ने अपनी पहली कार्गो इलेक्ट्रिक थ्री-व्हीलर ओटुआ को किया लॉन्च,...

Dandera Ventures ने अपनी पहली कार्गो इलेक्ट्रिक थ्री-व्हीलर ओटुआ को किया लॉन्च, जानिए क्या है फीचर्स और कीमत

Dendera Ventures- India TV Hindi News
Photo:INDIA TV Dendera Ventures ने EV थ्री-व्हीलर OTUA को किया लॉन्च

Highlights

  • एक बार चार्ज करने 165 किमी का देगी माइलेज
  • इस कार्गो इलेक्ट्रिक थ्री-व्हीलर पर भार वहन करने की क्षमता 900 किलोग्राम होगी
  • हवा के दबाव को 25% तक कम करने में होगी सक्षम

Dandera Ventures Electric Three-Wheeler OTUA: सस्टेनेबल मोबिलिटी स्टार्टअप डंडेरा वेंचर्स (Dandera Ventures) ने भारतीय बाजार में अपनी पहली कार्गो इलेक्ट्रिक थ्री-व्हीलर ओटुआ (OTUA) को लॉन्च कर दिया है। कार्गो ईवी की सबसे बड़ी खासियत यह है कि ये 900 किलोग्राम की उच्चतम भार वहन करने की क्षमता रखती है। एक बार चार्ज करने पर गाड़ी 165 किलोमीटर तक का सफर तय करेगी। OTUA वेरिएंट की कीमत ₹3,50,000-₹5,50,000 के बीच होगी। कंपनी इसे सब्सक्रिप्शन मॉडल के साथ भी लाएगी। 

कार्गो इलेक्ट्रिक थ्री-व्हीलर OTUA की ये होगी खासियत

  1. एक बार चार्ज करने 165 किमी का देगी माइलेज, जिसे 300 किमी से अधिक तक बढ़ाया जा सकता है
  2. 183 सीसी के साथ होगी उपलब्ध
  3. इस कार्गो इलेक्ट्रिक थ्री-व्हीलर पर भार वहन करने की क्षमता 900 किलोग्राम होगी
  4. ड्राइव एक्सपीरिएंस को बेहतर बनाने पर कंपनी ने किया है फोकस
  5. हवा के दबाव को 25% तक कम करने में होगी सक्षम
  6. ड्राइवर केबिन में AC की सुविधा होगी उपलब्ध

डांडेरा वेंचर्स के संस्थापक और सीईओ क्षितिज बजाज ने कहा कि ओटीयूए अपने सेगमेंट की सबसे शानदार कार्गो इलेक्ट्रिक थ्री-व्हीलर होने जा रही है। हमें विश्वास है कि यह विश्व स्तरीय और उद्योग-अग्रणी ड्राइवर एर्गोनॉमिक्स और सुरक्षा से लेकर रेंज, वॉल्यूम, क्षमता के मामले में शानदार प्रदर्शन करने वाली भारत की पहली कार्गो ईवी होगी। 

सभी कलपुर्जे भारत में किए गए तैयार 

ओटीयूए की लॉन्चिंग भारत के लॉजिस्टिक्स और लास्ट माइल डिलीवरी उद्योग के लिए एक महत्वपूर्ण पड़ाव साबित होने जा रही है क्योंकि यह सस्‍टेनेबल मोबिलिटी की दिशा में बदलाव का कारण बनेगा। OTUA को पूरी तरह से एक इलेक्ट्रिक वाहन के रूप में डिजाइन किया गया है। इसकी डिजाइन से लेकर बैटरी और ईवी बनाने में इस्तेमाल किए गए सभी कलपुर्जे भारत में तैयार किए गए हैं। यह 100% स्वदेशी प्रोडक्ट है। डंडेरा वेंचर्स के आर एंड डी डिवीजन ने ओटीयूए की बैटरी और ड्राइवट्रेन को डिजाइन और इंजीनियर किया है, जिसका लक्ष्य ग्राहक की अपेक्षाओं के साथ-साथ मौजूदा उद्योग मानकों को पार करना है।

2030 तक पूरी ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री को ईवी इंडस्ट्री में बदलने की कोशिश

बता दें, भारत में लास्ट-माइल डिलीवरी और लॉजिस्टिक्स उद्योग में तेजी से वृद्धि देखी जा रही है और ये अनुमान है कि अगले कुछ वर्षों में ये बाजार 5 बिलियन डॉलर के आकार को पार कर जाएगा। भारत सरकार भी ईवी इंडस्ट्री को बढ़ावा देने के लिए लगातार कोशिश में है। सरकार का लक्ष्य है कि 2030 तक पूरी ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री को ईवी इंडस्ट्री में बदला जा सके। इसके लिए वह कई तरह की सब्सिडी दे रही है। ईवी के वाहनों पर छूट भी दी जा रही है। सरकार के द्वारा FAME नाम से एक स्कीम लॉन्च की गई है, जिसका उद्देश्य मैन्यूफैक्चरिंग कंपनियों को फायदा पहुंचाना है, ताकि वो अधिक मात्रा में ईवी का प्रोडक्शन कर सके। 

Latest Business News

window.addEventListener('load', (event) => { setTimeout(function(){ loadFacebookScript(); }, 7000); });



Source link

Stay Connected
3,000FansLike
2,458FollowersFollow
15,000SubscribersSubscribe

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here