HomeAUTOMOBILEगियरबॉक्स की खराबी का ऐसे लगाएं पता, महंगे रिपेयरिंग खर्च से मिलेगा...

गियरबॉक्स की खराबी का ऐसे लगाएं पता, महंगे रिपेयरिंग खर्च से मिलेगा छुटकारा

पावर का कम होना

पावर का कम होना

पावर का कम होना आम समस्याओं में से एक है। इससे टॉर्क की कमी होती है और वाहन का एक्सेलेरेशन धीमा हो जाता है। इसमें आरपीएम यानी रोटेशन प्रति मिनट बढ़ता है लेकिन वाहन की स्पीड मुश्किल से बढ़ती है। यह समस्या मास्टर सिलेंडर में या फिर क्लच प्लेट में भी खराबी की वजह से होती है।

ऑयल का लीक होना

ऑयल का लीक होना

गियरबॉक्स के साथ सबसे अधिक दिखाई देने वाली समस्या और साथ ही सबसे आम समस्या वाहन के नीचे से किसी तरह के ऑयल का लीक होना है। इसके पीछे की वजह टूटी हुई सील या गैसकेट, ट्रांसमिशन केसिंग में दरार, खराब या टूटी हुई नाली सील या ढीले नट या बोल्ट हो सकती है।

गियर के बदलने से शोर होना

गियर के बदलने से शोर होना

यदि गियर बदलने के दौरान भिनभिनाहट की आवाज आती है तो इससे गियरबॉक्स में समस्या हो सकती है। आमतौर पर, यह गियर के टूटने, गियरबॉक्स तेल की कमी, घिसे-पिटे बियरिंग जैसी वजहों से होती है। इस तरह की समस्या को अनदेखा करने से गियर शिफ्ट करने में दिक्कत हो सकती है।

जलती हुई गंध का आना

जलती हुई गंध का आना

इंजन से निकलने वाले केबिन के अंदर तेज जलन वाली गंध गियरबॉक्स के खराब होने का संकेत हो सकता है। यह एग्जॉस्ट मैनिफोल्ड पर वायर इंसुलेशन के जलने, एग्जॉस्ट मैनिफोल्ड में तेल लीक होने, ट्रांसमिशन गर्म होने, गलत तरीके से ट्रांसमिशन ऑयल के इस्तेमाल की वजह से हो सकता है।

गियर का अपने आप बदलना

गियर का अपने आप बदलना

यदि आपका गियर अपने आप बदल जाता है तो ये खराब गियरबॉक्स का संकेत हो सकता है। इस समस्या को जम्पिंग गियर के रूप में जाना जाता है। यह गियरबॉक्स में ट्रांसमिशन फ्लूइड के गलत मात्रा या टूटे हुए और गर्म होकर टूटी हुई लिकेज रॉड के कारण हो सकता है।





Source link

Stay Connected
3,000FansLike
2,458FollowersFollow
15,000SubscribersSubscribe

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here