HomeBUSINESS NEWSअरुणाचल प्रदेश में PM Modi बिजली संयंत्र और ग्रीनफील्ड हवाई अड्डे का...

अरुणाचल प्रदेश में PM Modi बिजली संयंत्र और ग्रीनफील्ड हवाई अड्डे का करेंगे उद्घाटन, राज्य को मिलेगा पहला हवाई अड्डा

अरुणाचल प्रदेश को...- India TV Hindi News
Photo:PTI अरुणाचल प्रदेश को मिलेगा पहला हवाई अड्डा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने अरुणाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री पेमा खांडू (Pema Khandu) के अनुरोध का जवाब देते हुए 600 मेगावाट कामेंग हाइड्रो इलेक्ट्रिक प्रोजेक्ट और ग्रीनफील्ड हवाई अड्डे का उद्घाटन करने पर सहमति जताई है। अधिकारियों ने शुक्रवार को कहा कि यह पूर्वोत्तर भारत का सबसे बड़ा बिजली संयंत्र और ईटानगर में क्षेत्र का पहला ग्रीनफील्ड हवाई अड्डा है। 

मुख्यमंत्री कार्यालय (सीएमओ) के एक अधिकारी ने कहा कि खांडू ने मोदी को कामेंग हाइड्रो इलेक्ट्रिक प्रोजेक्ट के बारे में अवगत कराया था, जिसमें राज्य के स्वामित्व वाली नॉर्थ ईस्टर्न इलेक्ट्रिक पावर कॉरपोरेशन (NEEPCO) द्वारा लगभग 8,000 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत और ग्रीनफील्ड हवाई अड्डे के बारे में बताया गया था। इसे भारतीय हवाई अड्डा प्राधिकरण द्वारा 650 करोड़ रुपये की लागत से शुरू किया गया।

देश के लिए वरदान साबित होगी ये प्रोजेक्ट

मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री को बताया कि 600 मेगावाट की जलविद्युत परियोजना पूर्वोत्तर क्षेत्र में सबसे बड़ी है और यह देश के लिए वरदान साबित होगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि नागरिक उड्डयन महानिदेशक ने 7 सितंबर को ग्रीनफील्ड हवाई अड्डे के संचालन के लिए आवश्यक लाइसेंस जारी किया है, जिसे हाल ही में राज्य सरकार द्वारा डोनी पोलो हवाई अड्डे का नाम दिया गया था।

डोनी पोलो अरुणाचल प्रदेश का पहला हवाई अड्डा

उन्होंने कहा कि डोनी पोलो हवाई अड्डा अरुणाचल प्रदेश का पहला हवाई अड्डा है, जिसमें बड़े विमान उतारने की क्षमता है। खांडू ने कहा, “इस हवाई अड्डे के चालू होने से अरुणाचल प्रदेश सीधे नई दिल्ली से जुड़ जाएगा।” ईटानगर में डोनी पोलो हवाई अड्डा पासीघाट और तेजू हवाई अड्डों के बाद अरुणाचल प्रदेश का तीसरा हवाई अड्डा और पूर्वोत्तर का 16वां हवाई अड्डा होगा।

अभी दो दिन के उज्बेकिस्तान दौरे पर हैं PM मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शंघाई शिखर सम्मेलन (SCO) में भाग लेने के लिए गुरुवार को उज्बेक शहर समरकंद पहुंच चुके हैं। रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन, चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग और ईरानी राष्ट्रपति इब्राहिम रईसी सहित अन्य नेता भी SCO के वार्षिक शिखर सम्मेलन में शामिल होंगे। प्रधानमंत्री मोदी उज्बेकिस्तान के राष्ट्रपति शावकत मिर्जियोयेव के निमंत्रण पर वहां का दौरा कर रहे हैं। उज्बेकिस्तान एससीओ का मौजूदा अध्यक्ष है।

Latest Business News

window.addEventListener('load', (event) => { setTimeout(function(){ loadFacebookScript(); }, 7000); });



Source link

Stay Connected
3,000FansLike
2,458FollowersFollow
15,000SubscribersSubscribe

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here