HomeBUSINESS NEWSक्या है कार्ड टोकनाइजेशन? जिसे 1 अक्टूबर से लागू करने जा रहा...

क्या है कार्ड टोकनाइजेशन? जिसे 1 अक्टूबर से लागू करने जा रहा है RBI

क्या है कार्ड...- India TV Hindi News
Photo:INDIA TV क्या है कार्ड टोकनाइजेशन?

Card Tokenization: डेबिट कार्ड(Debit Card) और क्रेडिट कार्ड(Credit Card) फ्रॉड से परेशान लोगों के लिए RBI के तरफ से एक अच्छी खबर आई है। आरबीआई ने सभी क्रेडिट और डेबिट कार्ड डेटा ऑनलाइन, पॉइंट-ऑफ-सेल और इन ऐप से होने वाले लेनदेन को एक ही में मर्ज कर एक यूनिक टोकन जारी करने को कहा है। पहले इस यूनिक टोकन को 30 जून को जारी किया जाना था। यानि आपके कार्ड का टोकेनाइजेशन किया जाएगा, लेकिन आरबीआई ने इसके डेट में बदलाव करते हुए 1 अक्टूबर को लॉन्च करने को कहा है। 

क्या है यूनिक टोकन?

इस टोकन को आरबीआई के द्वारा जारी किया जाएगा। इसमें आपके पेमेंट से जुड़े सभी ऑप्शन दिए जाएंगे। एक यूनिक कोड के जरिए वास्तविक कार्ड डिटेल्स को बदलना है। बैंकिंग धोखाधड़ी की बढ़ती घटना को देखते हुए आरबीआई ने यह कदम उठाया है। इस कदम से क्रेडिट और डेबिट कार्ड के माध्यम से हो रही लेनदेन पहले के मुकाबले ज्यादा सुरक्षित हो जाएगी। ऐसा इसलिए क्योंकि लेनदेन के समय आपके क्रेडिट और डेबिट कार्ड की एक्चुअल डिटेल्स मर्चेंट के पास नहीं जाएगी बल्कि एक नंबर जाएगा। इससे धोखाधड़ी करना मुश्किल होगा। 

आप अपने कार्ड को टोकन में कैसे बदलेंगे? इन 6 स्टेप्स से समझिए

आरबीआई ने एक ट्वीट करते हुए बताया है कि एक आम नागरिक अपने कार्ड को एक यूनिक टोकन में कैसे बदल सकता है? उसके लिए आरबीआई ने 6 स्टेप बताएं हैं। आइए जानते हैं वो स्टेप कौन-कौन से हैं?

  1. स्टेप 1: ‘प्रारंभ करें’ (खरीदारी करने और भुगतान लेनदेन शुरू करने के लिए किसी भी ई-कमर्शियल मर्चेंट वेबसाइट या एप्लिकेशन पर जाएं।)
  2. स्टेप 2: ‘अपना कार्ड चुनें’ (चेक आउट के दौरान, भुगतान विधि के रूप में पहले सहेजे गए अपने डेबिट, क्रेडिट कार्ड का विवरण दर्ज करें।)
  3. स्टेप 3: ‘अपना कार्ड सुरक्षित करें’ (‘RBI के दिशानिर्देशों के अनुसार अपने कार्ड को सुरक्षित करें’ या ‘RBI के दिशानिर्देशों के अनुसार अपने कार्ड को टोकनाइज़ करें’ विकल्प चुनें।)
  4. स्टेप 4: ‘टोकन बनाने के लिए सहमति दें’ (आपके बैंक द्वारा आपके मोबाइल फोन या ईमेल पर भेजा गया ओटीपी दर्ज करें और आगे बढ़ें।)
  5. स्टेप 5: ‘टोकन जेनरेट करें’ (आपका टोकन जेनरेट कर दिया गया है और आपके द्वारा दी गई जानकारी को सेव कर लिया गया है।)
  6. स्टेप 6: ‘टोकनाइज्ड’ (जब आप उसी वेबसाइट या एप्लिकेशन पर दोबारा जाते हैं, तो आपके द्वारा सेव किए गए कार्ड के डिटेल वहां उपलब्ध मिलेंगे जिसमें आपको आपके कार्ड के अंतिम के चार अंक दिख रहे होंगे। इसकी मदद से आप वहां आसानी से टोकनाइज्ड पेमेंट कर सकेंगे।)

Latest Business News

window.addEventListener('load', (event) => { setTimeout(function(){ loadFacebookScript(); }, 7000); });



Source link

Stay Connected
3,000FansLike
2,458FollowersFollow
15,000SubscribersSubscribe

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here