Homecgnewsकब्र खोदकर एक महिला की लाश निकाली गई, जमीन से बाहर निकली...

कब्र खोदकर एक महिला की लाश निकाली गई, जमीन से बाहर निकली दिखी पैरों की उंगलियां, ब्वॉयफ्रेंड फरार…

रायगढ़। रायगढ़ जिले में रविवार को कब्र खोदकर एक महिला की लाश निकाली गई है। बंद मकान की बाड़ी में जमीन के अंदर शव दफन था। जब 17 दिनों से महिला का फोन नहीं लगा, तब जाकर बड़ी बहन किसी अनहोनी की आशंका से उसके घर गई। यहां घर के पीछे जमीन में दबी बहन की साड़ी और उसके पैरों की उंगलियां दिखाई दी। उसने तुरंत पुलिस को खबर की, तब पुलिस मौके पर पहुंची और वहां खुदाई कराई, तो महिला की लाश मिली। परिवार ने उसके प्रेमी पर हत्या का आरोप लगाया है।

जिस महिला की लाश मिली है, उसकी शिनाख्त कांति यादव (45 वर्ष) के रूप में हुई है। कांति चक्रधर नगर थाना क्षेत्र के माझापारा की रहने वाली थी। कांति के पिता गोपालराम यादव ने बताया कि 1 सितंबर से उनकी बेटी का फोन स्विच ऑफ बता रहा था। उन्होंने इन 17-18 दिनों में कई बार उसे फोन लगाने की कोशिश की, लेकिन उसका मोबाइल हमेशा बंद मिलता था, जिससे उन्हें अनहोनी की आशंका हुई। इस बीच उन्हें शुक्रवार 16 सितंबर को सूचना मिली कि कांति का प्रेमी खगेश्वर अस्पताल में भर्ती होकर अपना इलाज करा रहा है।

पिता गोपालराम ने बताया कि सूचना मिलने पर वे तुरंत कुनकुरी अस्पताल पहुंचे और अपनी बेटी कांति के बारे में पूछा, लेकिन वो गोलमोल जवाब देने लगा, जिससे उनका शक उस पर बढ़ गया। इधर मौका देखकर वो अस्पताल से फरार हो गया। उन्होंने बताया कि उनका परिवार जशपुर जिले के पत्थलगांव के इला गांव का रहने वाला है। खगेश्वर भी पत्थलगांव के कंडोरा गांव का रहने वाला है। दोनों की मुलाकात एक बाजार में हुई थी, जहां से दोस्ती और फिर प्यार परवान चढ़ा।

उन्होंने बताया कि खगेश्वर और उनकी बेटी कांति का जब प्रेम संबंध शुरू हुआ, तो ये दोनों पहले से शादीशुदा थे। कांति के 2 बेटे हैं, वहीं खगेश्वर भी अपनी पत्नी और दो बच्चों एक बेटा और एक बेटी के साथ रहता था। मृतका के पिता ने कहा कि दोनों पर प्यार का भूत इस तरह से सवार हुआ कि इन्होंने अपने-अपने घरों को छोड़ दिया और 4 साल पहले 2018 में भागकर रायगढ़ के माझापारा आ गए। खगेश्वर यहां ड्राइवर का काम करने लगा।

वहीं कांति की बड़ी बहन दिलेश्वरी यादव रायगढ़ में ही रहती है। दोनों बहनों के बीच काफी अच्छे संबंध थे, और दोनों के बीच हर 1-2 दिन में बात होती रहती थी, लेकिन जब लगातार छोटी बहन का फोन स्विच ऑफ बताने लगा, तो दिलेश्वरी परेशान हो गई। उसने ये बात अपने पिता को बताई, तो वे भी परेशान हो गए। इसी बीच उन्हें खगेश्वर के अस्पताल में होने की खबर मिली थी। इधर खगेश्वर के भाग जाने के बाद बड़ी बहन और परेशान हो गई।

दिलेश्वरी छोटी बहन कांति के घर पहुंच गई, तो बाहर से दरवाजा बंद मिला। तुरंत वो मकान के पिछले हिस्से में गई और वहां से दीवार फांदकर अंदर आई। जब उसने वहां देखना शुरू किया, तो जमीन में दबी बहन की साड़ी और पैरों की उंगलियां और अंगूठा नजर आया। उसने तुरंत पुलिस को सूचना दी। जिसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची और वहां पर खुदाई करवाई, तो कांति यादव की लाश मिली है।

रायगढ़ के नगर पुलिस अधीक्षक दीपक मिश्रा ने बताया कि मृतका के परिजनों की शिकायत पर जमीन को खुदवाया गया। फिलहाल महिला का शव बाहर निकाल लिया गया है। शरीर पर चोट के निशान हैं। फिलहाल शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा गया है। प्रेमी खगेश्वर यादव फरार है, इसलिए उसी पर हत्या की आशंका परिवार ने जताई है।

Gopi Soni
Gopi Sonihttps://24cgnews.com
Never stop learning, because life never stops teaching
Stay Connected
3,000FansLike
2,458FollowersFollow
15,000SubscribersSubscribe

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here