Headlines

Adipurush controversy: ‘रामायण’ के सीता और लक्ष्मण को नहीं भाया ‘आदिपुरुष’ का टीजर, कही ये बात

Adipurush controversy: 'रामायण' के सीता और लक्ष्मण को नहीं भाया 'आदिपुरुष' का टीजर, कही ये बात

Adipurush controversy- India TV Hindi News

Image Source : TWITTER
Adipurush controversy

Highlights

  • ‘सीता’ बोलीं- हो सकता है फिल्म अच्छी हो
  • जानिए क्या बोले ‘लक्ष्मण’ सुनील लहरी
  • VFX की हो रही बुराई

Ramayan Actor on Adipurush: फिल्म निर्माता ओम राउत की रामायण पर आधारित बड़े बजट की फिल्म ‘आदिपुरुष’ (Adipurus) हमारी पौराणिक कथाओं से बहुत अलग अनुभूति कराती है। यह बात हम नहीं बल्कि वो कलाकार कह रहे हैं जिन्हें राम और सीता के रूप में लोगों ने अपने दिल में बसाया है। जी हां! यह बात रामानंद सागर निर्मित टीवी धारावाहिक ‘रामायण’ की टीम ने कही है। 

VFX की हो रही बुराई 

रामानंद सागर निर्मित टीवी धारावाहिक ‘रामायण’ की टीम ने ‘आदिपुरुष’ (Adipurush Teaser) के टीजर पर बात की है। सत्य और असत्य से जुड़ी सदियों पुरानी इस कथा के पर बनी इस फिल्म में हिंदू देवी-देवताओं के चित्रण और कम्प्यूटर बनी छवि (CGI) की क्वालिटी के कारण बहिष्कार का सामना करना पड़ रहा है। 

‘सीता’ बोलीं- हो सकता है फिल्म अच्छी हो

‘आदिपुरुष’ का टीजर पिछले हफ्ते जारी किया गया था। ‘रामायण’ में सीता का किरदार निभाने वालीं दीपिका चिखलिया ने मीडिया से कहा, “मैंने टीजर देखा, यह उस ‘रामायण’ से बहुत अलग है जिसे हमने देखा था और मुझे पता है कि भारत के लोग इसके साथ बड़े हुए हैं। निश्चित तौर पर तकनीक का होना शानदार बात है, लेकिन मुझे लगता है कि यह उस युग को नहीं दर्शाती जिसमें वास्तविक रामायण घटित हुई।” उन्होंने कहा कि आदिपुरुष की दुनिया एलियन (दूसरे ग्रह के प्राणी) की दुनिया है, जिसमें बाहुबली फेम कलाकार प्रभास ने भगवान राम की भूमिका निभाई है। हालांकि चिखलिया ने उम्मीद जताई कि आदिपुरुष शानदार फिल्म साबित हो सकती है। 

क्या बोले ‘लक्ष्मण’ सुनील लहरी 

लहरी ने कहा, ” राम और रावण का चित्रण उन्होंने जिस तरह से किया है, वह दर्शकों को पच नहीं रहा है क्योंकि बुहत से लोग समान किरदारों को रामानंद सागर की ‘रामायण’ में देख चुके हैं।” रामानंद सागर के बेटे मोती सागर को लगता है कि जब एक फिल्मनिर्माता रामायण को पर्दे पर प्रस्तुत करता है तो उसे लोगों की भावनाओं का हमेशा ख्याल रखना चाहिए।मोती ने कहा, “हर व्यक्ति का नजरिया होता है। यह गलत है या सही, इस पर मैं टिप्पणी नहीं करूंगा।” 

कानूनी नोटिस तक पहुंची बात 

इस फिल्म के आगे का रास्ता मुश्किलों से भरा दिख रहा है, क्योंकि कई राजनीतिक दल और दक्षिणपंथी समूह फिल्म के टीजर की आलोचना कर चुके हैं। इस हफ्ते की शुरुआत में मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने फिल्म ‘आदिपुरुष’ के निर्माताओं को चेतावनी दी कि यदि हिंदुओं के धार्मिक पात्रों का चित्रण गलत तरीके से करने वाले दृश्यों को नहीं हटाया गया, तो वह उन्हें कानूनी नोटिस भेजेंगे। टीजर में भगवान राम और रावण के चित्रण पर विश्व हिंदू परिषद ने भी आपत्ति जताते हुए दावा किया है कि यह ‘हिंदू समाज’ का मजाक उड़ाती है। फिल्म के निर्देशक राउत ने कहा कि वह टीजर पर मिली प्रतिक्रिया से ‘आहत’ हुए हैं, लेकिन इससे वह चकित नहीं हैं।

रावण के इस्लामीकरण का आरोप 

फिल्म में राक्षसों के राजा 10 सिर वाले लंकेश की भूमिका को लेकर बहुत आलोचना हो रही है। लंकेश की भूमिका बॉलीवुड अभिनेता सैफ अली खान ने निभाई है। फिल्म निर्माताओं की कई लोगों ने यह कहकर आलोचना की है कि इससे ‘रामायण’ का इस्लामीकरण करने की झलक मिलती है। हनुमान का चित्रण दाढ़ी के साथ बिना मूंछ के किया गया है और उनका वस्त्र चमड़े का है, जिसकी आलोचना की जा रही है। हिंदू देवों का असामान्य चित्रण करते हुए भगवान राम को मूंछ के साथ प्रदर्शित किया गया है। 

ये थी रामायण की कास्ट 

घर-घर में टीवी पर हर रविवार को प्रसारित महाकाव्य को धारावाहिक के रूप में लाखों भारतीय देख चुके हैं जिसमें अभिनेता अरुण गोविल ने भगवान राम, दीपिका चिखलिया ने देवी सीता और सुनील लहरी ने लक्ष्मण की भूमिका निभाई थी। दिवंगत अभिनेता अरविंद त्रिवेदी ने रावण और दारा सिंह ने हनुमान की भूमिका निभाई थी। 

Gauri Khan Birthday: जब बिना पते और फोन नंबर के गौरी को तलाशने मुंबई पहुंच गए थे शाहरुख खान, समंदर किनारे देख गौरी हुई थीं हैरान

Bollywood Celebrities: सुपरस्टार बनने से पहले इन स्टार्स ने लीं बड़ी-बड़ी डिग्रियां, किसी ने की इंजीनियरिंग तो किसी ने एमबीए, जानें कौन हैं ये सितारे

Latest Bollywood News





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *