अमेरिकियों ने सबसे ज्यादा भारत की यात्रा की, जानिए वो 10 देश जिन्होंने भारत आना पसंद किया

विदेशी नागरिक- India TV Hindi News
Photo:FILE विदेशी नागरिक

कोरोना महामारी के चलते वर्ष 2020 और 2021 की शुरुआती महीनों तक पूरी दुनिया में हवाई यात्रा करीब-करीब प्रतिबंधित था। इसके चलते दुनियाभर के पर्यटक और पेशेवर एक देश से दूसरे देश की यात्रा नहीं कर पाएं। हालांकि, बाद में कोरोना पर काबू होने पर यात्रा प्रतिबंध में छूट दी गई। हवाई यात्राएं फिर शुरू हुई है। इसके बावजूद आपको जानकर आश्चर्य होगा कि भारत में पिछले साल करीब 15 लाख विदेशी आएं और उनमें सबसे ज्यादा अमेरिका से आने वाले लोग थे। पिछले साल 4.29 लाख अमेरिकियों और 2.4 लाख बांग्लादेशियों सहित 15 लाख से अधिक विदेशी नागरिक भारत की यात्रा पर आए। सरकार की ओर से यह जानकारी दी गई है। 

 इन 10 देशों से सबसे ज्यादा लोग भारत आए 

गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि 2021 में भारत आए कुल विदेशियों में से 74.39 प्रतिशत लोग 10 देशों से थे, जबकि अन्य 25.61 प्रतिशत यात्री अन्य देशों से ताल्लुक रखते थे। एक जनवरी से 31 दिसंबर 2021 के बीच कुल 15,24,469 विदेशी भारत आए। अधिकारी के अनुसार, इस दौरान अमेरिका से सबसे अधिक 4,29,860 लोग भारत आए। इसके बाद बांग्लादेश से 2,40,554, ब्रिटेन से 1,64,143, कनाडा से 80,437 और नेपाल से 52,544 लोगों ने भारत की यात्रा की। अधिकारी के मुताबिक, साल 2021 में अफगानिस्तान से 36,451, ऑस्ट्रेलिया से 33,864, जर्मनी से 33,772, पुर्तगाल से 32,064 और फ्रांस से 30,374 2021 लोग भारत आए। 

लॉकडाउन के दौरान उड़ानों को निलंबित किया गया था

कोविड-19 वैश्विक महामारी के कारण लगे राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन के दौरान सभी अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को पहले 25 मार्च से 21 अप्रैल 2020 तक निलंबित किया गया था। बाद में निलंबन अवधि तीन बार बढ़ाई गई और उड़ान सेवाएं 31 मई तक निलंबित रहीं। सरकार ने जून 2020 में हवाई सेवाओं को चरणबद्ध तरीके से बहाल करने की घोषणा की थी, लेकिन फिर भी 2021 के शुरुआती महीनों तक कई पाबंदियां कायम रहीं। वीजा संबंधी नियमों में बदलाव के कारण भी भारत में विदेशी यात्रियों की संख्या में कमी आई। 

Latest Business News

window.addEventListener('load', (event) => { setTimeout(function(){ loadFacebookScript(); }, 7000); });



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *