Tata Nexon Electric Joins Indian Air Force Fleet | भारत में सबसे लोकप्रिय टाटा की ये इलेक्ट्रिक कार वायुसेना के बेड़े में हुई शामिल, जानें विस्तार से

Off Beat

oi-Ashish Kushwaha

इस समय टाटा नेक्सन ईवी की सबसे ज्यादा मांग है। ऐसे में भारतीय वायु सेना (IAF) ने भी टाटा मोटर्स के इस इलेक्ट्रिक वाहन को अपने बेड़े में शामिल किया है।

पर्यावरण प्रदूषण को देखते हुए भारतीय वायु सेना ने टाटा नेक्सन ईवीके एक बैच को अपने बेड़े में शामिल किया है। इसके पीछे का उद्देश्य सरकार की ग्रीन मोबिलिटी पहल को आगे बढ़ाना में मदद करना है।

टाटा नेक्सन ईवी

एयर चीफ मार्शल वीआर चौधरी ने अन्य वरिष्ठ अधिकारियों और कर्मचारियों की उपस्थिति में भारतीय वायुसेना के बेड़े में शामिल होने वाले 12 इलेक्ट्रिक वाहनों के पहले बैच को हरी झंडी दिखाई है। बता दें कि इस ईवी की कीमत 17.50 लाख रुपये (एक्स-शोरूम) से शुरू होती है।

फोर्स पुराने वाहनों को बदलकर अपने बेड़े में इलेक्ट्रिक वाहनों को लाने की योजना बना रहा है। IAF चार्जिंग इंफ्रास्ट्रक्चर की लगाने के साथ विभिन्न फोर्स ठिकानों पर ई-वाहनों के इकोसिस्टम को बढ़ाने का भी प्लान बना रही है। इलेक्ट्रिक कारों के पहले बैच के परफॉर्मेंस को करने के लिए दिल्ली यूनिट में तैनात किया जाएगा।

IAF ने इलेक्ट्रिक बसों और इलेक्ट्रिक कारों की खरीद के लिए भारतीय सेना के साथ हाथ मिलाया है। भारतीय एयरपोर्ट्स अथॉर्टी (AAI) ने कहा कि सभी इलेक्ट्रिक वाहनों पर फोकस कर रहे है। हवाई अड्डों पर बुनियादी ढांचा तेजी से तैयार हो रहा है। यह कदम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इलेक्ट्रिक मोबिलिटी की ओर बढ़ने के विजन के अनुरूप है। संस्था का लक्ष्य 2030 तक इलेक्ट्रिक वाहनों पर स्विच करने के लिए 100% लक्ष्य हासिल करना है।

AAI ने शुरू में नई दिल्ली में अपने कॉर्पोरेट और क्षेत्रीय मुख्यालयों में आधिकारिक उपयोग के लिए 10 इलेक्ट्रिक वाहनों को शामिल किया था, जबकि मूल उपकरण निर्माताओं से सीधे खरीद / एयरसाइड संचालन के लिए किराए पर लेने के माध्यम से देश भर में एएआई हवाई अड्डे के कार्यालयों में कुल 45 ई-वाहन लगे हुए थे।

Most Read Articles

English summary

Indian air force inducts fleet of tata nexon electric vehicle details

Story first published: Thursday, November 17, 2022, 8:00 [IST]





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *