रायगढ़। झारखंड के देवघर जिले से देश भर में कॉल कर लोगों को ठगी का शिकार बना रहे जामताड़ा गैंग से जुड़े तीन शातिर आरोपियों के साथ उनके एक साथी विधि के साथ संघर्ष बालक को एसपी रायगढ़ अभिषेक मीना द्वारा गठित पुलिस टीम द्वारा देवघर जिले के गिरिडीह और दरबे गांव में दबिश देकर पकड़ा गया है, सीएसपी अभिनव उपाध्याय के नेतृत्व में आरोपियों की घेराबंदी कर दबिश दिया गया । इस दौरान भी आरोपीगण मोबाइल पर लोगों को कॉल कर ठगा जा रहा था, आरोपियों से नगद रकम ₹33,000 एवं 10 विभिन्न कंपनियों के मोबाइल की जब्ती की गई है, विशेष बात यह है कि आरोपियों की शिक्षा मात्र आठवीं तक की है किंतु इन्होंने काफी पढ़े-लिखे लोगों को अपना शिकार बनाया गया है । कोतवाली पुलिस को अब तक की जांच में आरोपियों द्वारा छत्तीसगढ़, गुजरात, मध्य प्रदेश, राजस्थान, उत्तर प्रदेश में कई लोगों से ठगी करना बताया गया है । कोतवाली पुलिस ने आरोपियों को इंदिरा नगर की महिला से करीब ₹1,00,000 की ठगी मामले में गिरफ्तार किया गया है जिन्हें धोखाधड़ी के अपराध में आज न्यायिक रिमांड पर भेजा जा रहा है ।

जानकारी के मुताबिक दिनांक 17.08.2022 को इंदिरानगर रायगढ़ की महिला थाना कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज कराया गया था दिनांक 12.08.2022 को इस सबंध में मोबाईल नंबर 768103XXX से किसी ने ब्लू डाट कोरियर सर्विस की ओर से काल कर कोरियर का चार्ज करने के लिये मोबाईल नंबर पर एक लिंक भेजा गया जिसको आपरेट करने पर बैंक आफ बडौदा के खाता से 99,998/ रूपये कट गया । थाना कोतवाली में पीड़िता के आवेदन पर अज्ञात आरोपी पर धोखाधड़ी का अपराध (धारा 420 आईपीसी) दर्ज कर विवेचना में लिया गया। मामले में एसपी अभिषेक मीना द्वारा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक एवं नगर पुलिस अधीक्षक को ऐसे ऑनलाइन ठगी के मामले का अपने सुपरविजन में जांच के निर्देश दिये गये जिस पर साइबर सेल प्रभारी उपनिरीक्षक कमल किशोर पटेल व साइबर टीम के साथ ऐसे मामलों में प्रयुक्त मोबाइल नंबर को सर्विलांस में रखकर अज्ञात आरोपियों की पतासाजी किया जा रहा था जिस पर थाना कोतवाली इंदिरानगर की महिला से ऑनलाइन ठगी में प्रयुक्त मोबाइल नम्बर के जिला देवघर (झारखंड) के गिरिडीह क्षेत्र में संचालित होने की जानकारी मिली । पुलिस अधीक्षक श्री मीना द्वारा तत्काल सीएसपी रायगढ़ के नेतृत्व में पुलिस टीम गठित कर झारखंड रवाना किया गया ।

पुलिस टीम के ग्राम गिरीडीह पहुंचने पर उक्त नंबर बंद हो जाने पर टीम को लीड कर रहे हैं सीएसपी अभिनव उपाध्याय उपाध्याय द्वारा उच्च अधिकारियों को अवगत कराकर अपने व्यवसाई क्षमता का बेहतर परिचय देते हुये आरोपियों के ठिकाने ग्राम दरबे क्षेत्र से कार्य करने की जानकारी मिली और पुलिस टीम द्वारा सुनियोजित तरीके से इलाके की घेराबंदी कर रेड किया गया । जहां कई लड़के मोबाइल लिए लगातार एक के बाद एक नम्बर पर कॉल कर रहे थे तभी संदिग्ध मोबाइल नंबर चालू होने पर सर्विलांस की मदद से आरोपी सफाउल अंसारी और उसके भाई रजाउल अंसारी को हिरासत में लिया गया जिसके निशानदेही पर आरोपी महेंदर मंडल और एक अपचारी बालक को हिरासत में लिया गया जिनसे कड़ी पूछताछ करने पर रायगढ़ जिले की महिला को अगस्त माह में ठगी कर 99,998/ रूपये प्राप्त करना कबूल किए । आरोपी रजाउल अंसारी के पास से नगद ₹20,000 तथा सफाउल अंसारी से ₹8,000 महेंद्र से ₹3,000 एवं अपचारी बालक से ₹2000 कुल ₹33000 व उनके द्वारा ठगी में प्रयुक्त विभिन्न कंपनियों के 10 नग मोबाइल की जब्ती की गई है । आरोपियों के बैंक खातों को होल्ड कराने की कार्यवाही प्रक्रियाधीन है । आरोपियों को थाना कोतवाली के मामले में गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर भेजा गया है ।

By Gopi Soni

Never stop learning, because life never stops teaching

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *