आपको 'कंगाल' बना सकती हैं ये 4 एप्स, Google ने तुरंत फोन से डिलीट करने के लिए किया अलर्ट

Google advice to delete these malware apps  - India TV Hindi News
Photo:PTI Google advice to delete these malware apps

आज के समय में हर किसी के स्मार्टफोन में ढेरों एप्स इंस्टॉल होती हैं। कुछ एप्स आप खुद इंस्टॉल करते हैं वहीं कुछ एप्स पॉपअप मैसेज के माध्यम से आते हैं और क्लिक करत ही इंस्टॉल हो जाते हैं। अक्सर फर्जीवाड़े वाले एप्स ऐसी ही पॉपअप या फिर एप पर डिस्प्ले होने वाले एडवरटज्मेंट के माध्यम से अनजाने में इंस्टॉल हो जाते हैं। 

कई बार ऐसे अनजान एप्स आपके फोन को नुकसान पहुंचा सकते हैं, साथ ही आपके फोन में मौजूद बैंकिंग या पर्सनल डेटा को भी हैक कर सकते हैं। Google ने आपके Android डिवाइस के लिए अक्सर अलर्ट जारी करता है और हैकिंग की संभावना वाले एप्स को अपने PlayStore से हटा भी देता है। ऐसी ही कार्रवाई हाल ही में गूगल ने की है। कंपनी ने प्ले स्टोर से चार ऐप पर प्रतिबंध लगा दिया है। 

इन 4 एप्स के लिए आया Google का अलर्ट

Google को हाल ही में इसी तरह के दुर्भावनापूर्ण ऐप्स की सूचना मिली थी और उसे उन्हें हटाना पड़ा। पता चला है कि चारों ऐप एक ही डेवलपर के हैं और दुर्भावनापूर्ण कंटेंट को चालाकी से फैलाते पाए गए हैं। चार ऐप्स को Google Play स्टोर पर प्रकाशित किया है और यदि इनमें से कोई भी आपके Android फोन में इंस्टॉल्ड है, तो आपको उन्हें तुरंत हटाना होगा। ये एप्स हैं..

– Bluetooth Auto Connect  

– Bluetooth App Sender
– Mobile transfer: smart switch
– Driver: Bluetooth, Wi-Fi, USB

गूगल ने प्ले स्टोर से चार ऐप्स हटाए

एंड्रॉइड डिवाइस की सुरक्षा के लिए गूगल ने इन सभी एप्स को अपने मोबाइल से हटाने को कहा है। डेवलपर्स के अनुसार कि इंस्टॉल होने के बाद, सुरक्षा जांच से बचने के लिए दुर्भावनापूर्ण गतिविधियों में देरी हुई। इस तरह, शुरुआती कुछ दिनों के लिए ऐप्स ठीक काम करने लगे। हालांकि, कुछ दिनों के भीतर, ये ऐप अपने आप में आ जाते हैं और पीड़ित के डिवाइस पर स्पैम के साथ-साथ फिशिंग शुरू हो जाती है।

क्या-क्या कर सकते हैं ये मालवेयर 

ट्रेंड माइक्रो की नई सिक्योरिटी रिसर्च में मालवेयर से जुड़ी कई जानकारियां सामने आई हैं। जो बताती हैं कि ये फर्जी एप्स आपको किस तरह और कितना नुकसान पहुंचा सकती हैं। 

  • मालवेयर से लैस ड्रॉपर ऐप्स का काम बैंकिंग जानकारी, पिन, पासवर्ड आदि समेत आपके डाटा चुराना होता है। 
  • ये ऐप्स आपके मोबाइल फोन पर आ रहे बैंक के मैसेज को भी ट्रैक करते हैं। 
  • ये ऐप्स मैलवेयर ले जाने के लिए गूगल प्ले स्टोर की सिक्योरिटी को भी धता बताते हैं आपके फोन पर इंस्टॉल करने पर ये एप्स आपके जरूरी डाटा को चुरा सकते हैं।
  • गूगल ने उन्हें प्ले स्टोर से हटाया हो, ये एप्लिकेशन अभी भी आपके एंड्रॉयड फोन पर हो सकते हैं 
  • जरूरी है कि आप तुरंत ऐसे एप्स को अपने फोन से डिलीट कर दें 

हूबहू दिखने वाले एप्स से भी सावधान 

बहुत से फर्जी एप्स प्रचलित एप्स की कॉपी की तरह दिखते हैं। एप का आइकॉन, लोगो, डिजाइन या टाइटल बिल्कुल हूबहू प्रचलित एप जैसा ही होता है। लोग इन क्लोन एप्स को डाउनलोड करते हैं और नुकसान उठाते हैं। इनमें कई वीपीएन एप्स भी शामिल हैं। गूगल के अनुसार इन एप्स को 31 अगस्त से बैन कर दिया जाएगा। 

Latest Business News

window.addEventListener('load', (event) => { setTimeout(function(){ loadFacebookScript(); }, 7000); });



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *