PayU ने 6% कर्मचारियों को नौकरी से निकाला, सामने आई यह बड़ी वजह

PayU ने 6% कर्मचारियों को नौकरी से निकाला- India TV Hindi
Photo:FILE PayU ने 6% कर्मचारियों को नौकरी से निकाला

साल खत्म होने से पहले एक और बड़ी फिनटेक कंपनी ने अपने यहां छंटनी को अंजाम दिया है। PayU इंडिया ने 150 लोगों को नौकरी से निकाल दिया है। यह उसके कुल कर्मचारी का 6 प्रतिशत है। 

इस वजह से नौकरी से निकाला

PayU India के फिनटेक व्यवसायों में Wimbo, Citrus और LazyPay जैसी कंपनियां शामिल हैं। कंपनी का कहना है कि वह छंटनी इसलिए कर रही है ताकि नए लोगों की एक टीम तैयार कर सके। वह मार्केट में अपने आप को मजबूत बनाए रखने के लिए जरूरी कदम उठाने का प्रयास कर रही है।

एक अधिग्रहण को कंपनी के मालिक पहले कर चुके हैं रद्द

बता दें, इस साल की शुरुआत में Prosus जो PayU के मालिक हैं, उन्होंने PayU द्वारा ऑनलाइन पेमेंट गेटवे बिलडेस्क के 4.7 बिलियन डॉलर के प्रस्तावित अधिग्रहण को रद्द कर दिया था। भारत के एंटीट्रस्ट रेगुलेटर कॉम्पिटिशन कमीशन ऑफ इंडिया (CCI) द्वारा सौदे को मंजूरी देने के एक महीने के भीतर यह समाप्ति हुई थी, जिसकी घोषणा पहली बार अगस्त 2021 में की गई थी।

यहां भी होने वाली है बड़ी संख्या में छंटनी

अमेजन कंपनी अब 20,000 से अधिक कर्मचारियों की छंटनी करने की योजना बना रही है, जो पहले की तुलना में दोगुना है। अमेजन कई क्षेत्रों से लोगों को निकालेगा, जिसमें सबसे अधिक खतरा डिस्ट्रीब्यूशन सेंटर के कर्मचारी, आईटी के कर्मचारी और कॉर्पोरेट अधिकारी पर है। छंटनी आने वाले महीनों में होगी।

अमेजन के सीईओ एंडी जेसी ने हाल ही में पुष्टि की है कि अमेजन कई विभागों में कर्मचारियों को छंटनी करने की तैयारी कर रहा है, लेकिन उन्होंने इस छंटनी से प्रभावित होने वाले कर्मचारियों की संख्या का खुलासा नहीं किया है। नवंबर में कुछ आंतरिक सूत्रों ने द न्यूयॉर्क टाइम्स को बताया कि कंपनी 10,000 कर्मचारियों को बर्खास्त करने की योजना है।

Latest Business News





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *