भारत के PC मार्केट में पिछले वर्ष हुई 1 प्रतिशत से कम ग्रोथ

भारत के PC मार्केट में पिछले वर्ष हुई 1 प्रतिशत से कम ग्रोथ

देश में पिछले वर्ष  PC का मार्केट केवल 0.3 प्रतिशत बढ़ा है। हालांकि, पिछले वर्ष की चौथी तिमाही में इस मार्केट में 28.5 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई है। इस मार्केट में डेस्कटॉप, नोटबुक्स और वर्कस्टेशंस शामिल हैं। चौथी तिमाही में नोटबुक कैटेगरी में 37.8 प्रतिशत की कमी रही, जबकि डेस्कटॉप की शिपमेंट्स बढ़ी हैं। 

इंटरनेशनल डेटा कॉरपोरेशन (IDC) के अनुसार, इन्फ्लेशन अधिक होने और कमजोर सेंटीमेंट के कारण इस मार्केट का कंज्यूमर सेगमेंट वर्ष-दर-वर्ष आधार पर 27.4 प्रतिशत और एंटरप्राइज सेगमेंट 42.6 प्रतिशत घटा है। हालांकि, गवर्नमेंट और एजुकेशन सेगमेंट्स में क्रमशः 117.6 प्रतिशत और 28.3 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है। डेस्कटॉप और वर्कस्टेशंस में वर्ष-दर-वर्ष आधार पर 32.3 प्रतिशत और 24.7 प्रतिशत की ग्रोथ दर्ज की गई लेकिन नोटबुक कैटेगरी में 8.4 प्रतिशत की गिरावट थी। प्रीमियम नोटबुक्स की कैटेगरी में 14.6 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई लेकिन कमर्शियल सेगमेंट में 7.9 प्रतिशत की कमी थी। 

ऑनलाइन चैनल्स के जरिए शिपमेंट्स में पिछले वर्ष 9.4 प्रतिशत की कमी हुई है। देश के PC मार्केट में HP पहले स्थान पर है। इसका मार्केट शेयर 30.3 प्रतिशत का है लेकिन वर्ष-दर-वर्ष आधार पर यह 3.2 प्रतिशत घटा है। दूसरे स्थान पर अमेरिकी कंपनी Dell है। इसका मार्केट शेयर 19.2 प्रतिशत का है और इसमें इससे पिछले वर्ष की तुलना में एक प्रतिशत की कमी हुई है। चीन की Lenovo तीसरे स्थान पर है। इसका मार्केट शेयर 18.9 प्रतिशत का था और इसमें 3.1 प्रतिशत की वार्षिक ग्रोथ हुई है। इसके बाद Acer और ASUS क्रमशः 9.9 प्रतिशत और 6.8 प्रतिशत के मार्केट शेयर के साथ हैं। 

चीन में पिछले वर्ष के अंत में कोरोना के मामले दोबारा बढ़ने का असर बहुत सी इंडस्ट्रीज पर पड़ा है। इससे नए PC और लैपटॉप के लॉन्च पर भी असर पड़ने की आशंका है।। चीन में पर्सनल कंप्यूटर और लैपटॉप बनाने वाली कंपनियों के सप्लायर्स की भी कोरोना से मुश्किलें बढ़ गई थी। इससे शिपमेंट्स में देरी होगी, जिसका असर नए लैपटॉप जैसे प्रोडक्ट्स की उपलब्धता पर पड़ेगा। Compal, Inventec, Quanta और Wistron जैसी कॉन्ट्रैक्ट मैन्युफैक्चरिंग फर्मों को कंपोनेंट्स या वर्कर्स की कमी से नहीं जूझना पड़ा था। इनके पास इनवेंटरी मौजूद होने और पहली तिमाही में डिमांड बहुत अधिक नहीं होने के अनुमान की वजह से इन्होंने अपने सप्लायर्स को प्रोडक्शन बढ़ाने के लिए नहीं कहा था। 

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *