Headlines

Weather Update CG: दस वर्षों में सबसे कम तपाने वाला रहा अप्रैल का महीना, गुरूवार रात अंधड़ चलने के साथ जमकर हुई बारिश

रायपुर। Raipur Weather गर्मी के लिए जाने वाला अप्रैल का महीना अब खत्म होने वाला है और बीते दस वर्षों में अप्रैल 2023 का महीना अब तक सबसे कम तपाने वाला है। बीते पखवाड़े भर से बदले मौसम के मिजाज के चलते रोजाना ही आंशिक रूप से बादल छाने के साथ ही हल्की वर्षा भी हो रही है। गुरुवार को रायपुर का अधिकतम तापमान 34.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य से सात डिग्री सेल्सियस कम रहा। लेकिन रात को अंधड़ चलने के साथ जमकर बारिश हुई। मौसम विभाग का कहना है कि द्रोणिका के प्रभाव से शुक्रवार को भी प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों में अंधड़ चलने के साथ वर्षा के आसार है। साथ ही कुछ क्षेत्रों में बिजली भी गिर सकती है।

गुरुवार सुबह से ही रायपुर सहित प्रदेश भर में आंशिक रूप से बादल छाने के साथ ही हल्की बूंदाबांदी हुई। इसके चलते वातावरण में भी ठंडकता रही। ठंडी हवाएं चलने के कारण धूप निकलने के बाद भी मौसम में ठंडकता रही। इसके बाद रात में जमकर बारिश हुई। बारिश होने से मौसम सुहावना हो गया। बिलासपुर का अधिकतम तापमान 34.0 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य से नौ डिग्री सेल्सियस कम रहा। पेंड्रारोड, रामानुजनगर सहित प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों में हल्की वर्षा भी हुई। मौसम विज्ञानियों का कहना है कि अगले सप्ताह यानि एक मई के बाद से मौसम का मिजाज बदलने के आसार है और गर्मी शुरू होगी। अभी आने वाले तीन दिन तो मौसम का मिजाज इस प्रकार ही बना रहेगा। इस वर्ष मार्च का महीना भी पिछले वर्षो की तुलना में कम तपाने वाला रहा है।

यह बन रहा सिस्टम

मौसम विज्ञानी एचपी चंद्रा ने बताया कि एक द्रोणिका पश्चिमी विदर्भ से दक्षिणी अंदरूनी तमिलनाडू तक 1.5 किमी ऊंचाई तक है। प्रदेश में बंगाल की खाड़ी से प्रचुर मात्रा में नमी आ रही है। इसके चलते शुक्रवार को कुछ क्षेत्रों में हल्की वर्षा के साथ अंधड़ चलेगी। अधिकतम तापमान में विशेष बदलाव नहीं होगा।

दस वर्षों में ऐसा रहा रायपुर का अधिकतम तापमान

2013 42.3

2014 42.7

2015 42.0

2016 44.0

2017 44.2

2018 41.8

2019 44.2

2020 40.7

2021 42.4

2022 44.1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *