Headlines

हिमांशु सिंह डिजाइन करेंगे मीडिया कैंपेन:छत्तीसगढ़ समेत 3 राज्यों के चुनाव के लिए भोपाल में होगा भाजपा का सेंट्रल वॉर रूम

इसी साल होने वाले छत्तीसगढ़, मप्र और राजस्थान के विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी अभी तक के सबसे बड़े और अत्याधुनिक डिजिटल सेटअप के साथ मैदान में उतर रही है। तीनों राज्यों में उनके स्टेट वॉर रूम तो होंगे ही, भोपाल में एक सेंट्रल वॉर रूम भी बनाया जा रहा है। छत्तीसगढ़ और राजस्थान में कांग्रेस की सरकार है, लिहाजा किसी तरह की गड़बड़ी से बचने भोपाल में जगह की तलाश की जा रही है। मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ का कोआर्डिनेशन दोनों राज्यों के क्षेत्रीय संगठन मंत्री अजय जामवाल देखेंगे। हिमांशु सिंह पूरा कैंपेन डिजाइन करेंगे।

मध्यप्रदेश में एंटीइनकंबेंसी और छत्तीसगढ़ में सीटों के बड़े फासले को पाटने के लिए भारतीय जनता पार्टी ने दोनों राज्यों में पूरी ताकत झोंक दी है। पार्टी ने बड़ी संख्या में आईटी एक्सपर्ट हायर किए हैं। इनके लिए एडवांस सॉफ्टवेयर से लैस सिस्टम की लैब बनाई जा रही है। पहली बार ऐसा हो रहा है कि भारतीय जनता पार्टी दोनों राज्यों में संभाग स्तरीय वॉर रूम बना रही है। छत्तीसगढ़ में रायपुर के एकात्म परिसर में बड़ा सेटअप लगाया जा रहा है इसके साथ ही बिलासपुर में भी वॉर रूम बन रहा है। मध्यप्रदेश में भोपाल के बड़े सेटअप के साथ-साथ इंदौर, ग्वालियर, जबलपुर सहित कुछ शहरों में वॉर रूम का सेटअप होगा।

हिमांशु सिंह डिजाइन करेंगे कैंपेन, शार्ट वीडियो पर जोर : केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के साथ पिछले दिनों भोपाल आए हिमांशु सिंह मध्यप्रदेश के साथ-साथ छत्तीसगढ़ का मीडिया कैंपेन डिजाइन करेंगे। हिमांशु एमबीएम एजेंसी के जरिेए एनालिसिस का काम करते हैं। उनके साथ इस क्षेत्र के दिग्गज प्रशांत किशोर की टीम के कई साथी हैं। हालांकि उनका मेन फोकस मध्यप्रदेश रहेगा, लेकिन उन्हें छत्तीसगढ़ के कैंपेन की आउटलाइन बनाने भी कहा गया है।

उनकी टीम इस बार भाजपा के प्रचार के लिए, विरोधी पार्टियों के जवाब के लिए लोकल लैंग्वेज में शार्ट वीडियो पर फोकस कर रही है। इनमें मीम्स, लोकगीत, गानों पर पैरोडी, फनी वीडियो के जरिए भाजपा का, नेताओं का, प्रत्याशियों का प्रचार किया जाएगा और विरोधी पार्टी, नेताओं पर कटाक्ष किया जाएगा।

अजय जामवाल के जिम्मे समन्वय : मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में क्षेत्रीय संगठन महामंत्री की जिम्मेदारी संभाल रहे अजय जामवाल दोनों राज्यों की चुनावी रणनीति भी देखेंगे। उनको भोपाल में बने सेंट्रल वॉर रूम और छत्तीसगढ़ के वॉर रूम में कोऑर्डिनेशन भी देखना है। वे आने वाले तीन महीनों तक लगातार छत्तीसगढ़ के दौरे पर रहेंगे। उन्हें कम से कम 10 दिन सीजी में रहने कहा गया है।

तीन दिन पहले दिल्ली में हुई बैठक, वहीं ट्रेनिंग भी
पार्टी का प्रचार, मीडिया और प्रवक्ता की जिम्मेदारी संभाल रहे भाजपा नेताओं को तीन दिन पहले दिल्ली बुलाया गया था। इसमें छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश, राजस्थान के साथ साथ तेलंगाना के मीडिया प्रभारी शामिल थे। इन लोगों को चुनाव के दौरान मीडिया, सोशल मीडिया, बयानों की ट्रेनिंग दी गई और प्रत्येक राज्य के लिए एक राष्ट्रीय प्रवक्ता को मेंटर बनाया गया। सुधांशु त्रिवेदी राजस्थान, गौरव भाटिया को छत्तीसगढ़ की जिम्मेदारी दी गई।

एकात्म परिसर में स्टूडियो और हाईटेक होगा
भोपाल में रीवा विधायक राजेंद्र शुक्ला के बंगले में सोशल मीडिया की एक टीम बैठने की व्यवस्था पूरी कर ली गई है। रायपुर में भाजपा ने कुशाभाऊ ठाकरे परिसर में 50 आईटी प्रोफेशनल्स के लिए व्यवस्था की है। यहां के एकात्म परिसर को बड़ा मीडिया सेंटर बनाया जा रहा है। यहां एक स्टूडियो का रेनोवेशन भी किया जा रहा है। यहां से भाजपा के प्रवक्ता सोशल मीडिया पर लाइव रहेंगे। यहां से रोज बुलेटिन प्रसारित करने की तैयारी भी की जा रही है।

मांगों पर रिसर्च पूरी, अब कैंपेन पर ध्यान

भोपाल में अभी बड़े मीडिया सेंटर के सेटअप के लिए जगह देखी जा रही है। यहां से छत्तीसगढ़ या दूसरे राज्यों के चुनाव को लेकर किसी तरह का नियंत्रण होगा या नहीं ये नहीं मालूम। हिमांशु सिंह मीडिया कैंपेन से कैसे जुड़ेंगे ये विषय केंद्रीय नेतृत्व का है। इस संबंध में मुझे कोई जानकारी नहीं है।
नेहा बग्गा, भाजपा प्रवक्ता, मध्यप्रदेश

हम कई स्थानों पर वॉर रूम सेटअप कर रहे हैं। छत्तीसगढ़ भाजपा पूरी ताकत-क्षमता से चुनाव की तैयारियों में लगी है। हमने अभी तक प्रदेश के सभी मुद्दों, सरकार की योजनाओं, लोगों की मांगों पर डिटेल रिसर्च किया है। हम मीडिया कैंपेन को भी अत्याधुनिक तरीके से चलाएंगे।
अमित चिमनानी, भाजपा प्रवक्ता, छग

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *