China started drilling another well of 10000 meters what is the purpose Know

10 हजार मीटर गहरा एक और गड्ढा खोदने लगा चीन, क्‍यों कर रहा धरती में ‘छेद’? जानें

चीनी मंसूबों ने पूरी दुनिया को चिंता में डाला हुआ है। पिछले महीने खबर आई थी कि चीन धरती की सतह में 10 हजार मीटर गहरा गड्ढा खोद रहा है। यह सब किया जा रहा है नैचुरल गैस का भंडार हासिल करने के लिए। अब एक नई रिपोर्ट में कहा गया है कि चीन ने 10 हजार मीटर का एक और गड्ढा ड्रिल करना शुरू कर दिया है। दक्षिण-पश्चिम प्रांत सिचुआन में हो रही इस ड्रिलिंग का मकसद वहां प्राकृतिक गैस के बड़े भंडार की तलाश है। 

न्‍यूज एजेंसी सिन्‍हुआ के हवाले से साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्‍ट ने लिखा है कि पेट्रोचाइना साउथवेस्ट ऑयल एंड गैसफील्ड कंपनी ने सिचुआन बेसिन में 10,520 मीटर (34,500 फीट) गहरे एक कुएं के लिए ड्रिलिंग शुरू की है। इस कुएं का नाम शेंडी चुआनके -1 (Shendi Chuanke-1) है। 

इस तरह की ड्रिलिंग करके नैचुरल गैस हासिल करना दुनिया में सबसे ज्‍यादा चुनौती वाला तकनीकी काम माना जाता है। गौरतलब है कि यह चीन में खोदा जा रहा दूसरा सबसे गहरा कुआं या गड्ढा होगा। मई महीने के आखिर में चीन ने झिंजियांग प्रांत के तारिम बेसिन क्षेत्र में 10 हजार मीटर गहरे गड्ढे की खुदाई शुरू की थी। 

हालांकि कुछ मीडिया रिपोर्टों में कहा गया था कि चीन वह गड्ढा पृथ्वी की सतह के बारे में खोजबीन करने के लिए कर रहा है। इस तरह के प्रोजेक्ट के जरिए भूकंप और ज्वालामुखी विस्फोट जैसी आपदाओं के बारे में पता लगाया जा सकता है। बहरहाल, दो बड़े गड्ढों की खुदाई के बाद अगर चीन को प्राकृतिक गैस का भंडार मिल जाता है, तो यह उसकी बड़ी उपलब्‍धि होगी। साल 2021 के बाद से चीन दुनिया का चौथा सबसे बड़ा प्राकृतिक गैस उत्पादक बन गया है। 

दुनियाभर के राजनीतिक परिदृश्‍य जिस तेजी से बदल रहे हैं, उसमें चीन की चिंता अपने लिए ऊर्जा की उपलब्‍धता 
को बनाए रखना है। देश के विकास के लिए चीन को बड़े स्‍तर पर घरेलू तेल और गैस उत्‍पादन करने की जरूरत है। इसी मकसद के साथ उसने धरती पर दो बड़े गड्ढे करने शुरू कर दिए हैं। 

 



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *