Headlines

कांग्रेस के दावेदारों को CM भूपेश की चेतावनी:कहा- चुनाव में इधर-उधर किए तो ठीक नहीं होगा, दुखी होकर प्रत्याशी को निपटाना नहीं

बिलासपुर जिले के विधानसभा में आयोजित संकल्प शिविर में कांग्रेस के दावेदारों को CM भूपेश ने हिदायत दी है। चेतावनी भरे लहजे में उन्होंने कहा कि, चुनाव में 97 उम्मीदवारों में टिकट सिर्फ एक नेता को ही मिलेगा। बाकी के जितने भी दावेदार हैं, उनके उम्मीदों पर पानी फिरेगा। उनको दुखी होकर प्रत्याशी को निपटाना नहीं है। अगर ऐसा हुआ तो समझ लें मैं सबका लिस्ट बनवा रहा हूं, उन्हें मंच में बैठने नहीं मिलेगा।

साथ ही उन्होंने कहा कि इस बार 75 पार करना है तो बेलतरा विधानसभा जिताना होगा। इसलिए सभी दावेदारों को आजू-बाजू के मंच में बैठाया गया है। सभी दावेदारों को अनुशासन में रहकर पार्टी के लिए काम करने का संकल्प दिलाया गया। मुख्यमंत्री ने प्रदेश अध्यक्ष दीपक बैज को भी दावेदारों पर नजर रखने का इशारा किया।

बेलतरा विधानसभा में दावेदार इतने हैं कि मंच में बैठाने के लिए अलग से व्यवस्था करनी पड़ी।

बेलतरा विधानसभा में दावेदार इतने हैं कि मंच में बैठाने के लिए अलग से व्यवस्था करनी पड़ी।

बेलतरा विधानसभा में आए हैं सबसे ज्यादा आवेदन

दरअसल, बेलतरा विधानसभा क्षेत्र से इस बार प्रदेश के सर्वाधिक दावेदारों ने आवेदन किया है। यही वजह है कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने मंगलवार को आयोजित संकल्प शिविर में सारे दावेदारों को मंच पर जगह दिया था। इस शिविर में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने तीखे तेवर भी दिखाए। उन्होंने दावेदारों को भीतरघात या फिर खुलाघात ना करने की हिदायत दी और एकजुटता का दिखाने का संदेश भी दिया। उन्होंने कहा कि इस विधानसभा क्षेत्र से 97 लोगों ने आवेदन दिया है। लेकिन, टिकट तो एक को ही मिलेगी। 96 लोग बाहर हो जाएंगे। इन सभी लोगों को पार्टी का काम करना है।

दावेदारों से सीएम बघेल ने कहा सभी मिलकर पार्टी के प्रत्याशी को जिताने का काम करेंगे।

दावेदारों से सीएम बघेल ने कहा सभी मिलकर पार्टी के प्रत्याशी को जिताने का काम करेंगे।

PCC अध्यक्ष को किया इशारा, कहा- दावेदारों पर रखें नजर
सीएम बघेल ने प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष दीपक बैज को गवाही रखकर कहा कि तीन महीने बाद होने वाले विधानसभा चुनाव का काफी महत्व है। ऐसे दौर में भीतरघात करना या पार्टी अनुशासन के खिलाफ जाना बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने अनुशासन के दायरे में रहते हुए अपना काम करने और अपनी बात कहने की बात कही। सीएम बघेल ने बेलतरा विधानसभा में दावेदारों की बढ़ी हुई संख्या को लेकर अपने मन की बात सार्वजनिक कर दी। बेलतरा विधानसभा क्षेत्र का संकल्प शिविर बहतराई स्थित स्व बीआर यादव स्टेडियम में आयोजित किया गया था।

शिविर में कांग्रेस के उम्मीदवार को जिताने सीएम ने कार्यकर्ताओं को दिलाया संकल्प।

शिविर में कांग्रेस के उम्मीदवार को जिताने सीएम ने कार्यकर्ताओं को दिलाया संकल्प।

‘कमल में बटन दबाने से उद्योगपति निकलेगा’

दूसरे चरण के संकल्प शिविर की शुरुआत मुख्यमंत्री बघेल ने कोटा विधानसभा से की। इस दौरान सीएम बघेल ने कांग्रेस नेताओं व कार्यकर्ताओं को रिचार्ज करते वोट के महत्व को अनोखे अंदाज में समझाया। उन्होंने कहा कि कमल छाप में बटन दबाने से उद्योगपति निकलेगा और पंजा छाप में बटन दबाने से छत्तीसगढ़ की उन्नति, किसान और विकास होगा। ​​​​​​​छत्तीसगढ़ की अस्मिता का सम्मान होगा और किसान व मजदूर आर्थिक रूप से मजबूत होंगे।

कोटा के एलबीडी स्कूल परिसर में शिविर का आयोजन किया गया था। मुख्यमंत्री ने यहां कार्यकर्ताओं से सीधा संवाद स्थापित किया। सीएम ने पूर्व सीएम डा रमन सिंह को जमकर घेरा। कहा कि डा रमन सिंह ने किसानों के साथ छल किया है। बोनस नहीं दिया। राशन कार्ड में घोटाला किया। चुनाव के पहले थोक के भाव में राशन कार्ड बांटते थे और चुनाव के बाद उसी अंदाज में काटते थे। आदिवासियों को जर्सी गाय देने का वायदा किया था। सीएम ने कार्यकर्ताओं से पूछा कोटा विधानसभा क्षेत्र के आदिवासियों को गाय मिली थी क्या। आदिवासी आज भी गेरवा लेकर गाय का इंतजार कर रहे हैं।

‘राहुल गांधी ने जो वादा किया उसे हमने पूरा किया’
सीएम बघेल ने कहा कि वर्ष 2018 के विधानसभा चुनाव के समय हमारे नेता राहुल गांधी आए थे। उन्होंने किसानों का कर्ज माफ करने और 2500 क्विंटल धान खरीदने का वायदा किया था। सरकार बनते ही सबसे पहला काम कर्जमाफी किया। धान भी हम खरीद रहे हैं। बोनस भी दे रहे हैं। बोनस मिल रहा है या नहीं। खाते में पैसे जमा हुआ या नहीं। सीएम ने कार्यकर्ताओं से पूछा। कार्यकर्ताओं ने हां में जवाब दिया।

बेलतरा के साथ ही कोटा व मस्तूरी विधानसभा में भी हुआ आयोजन।

बेलतरा के साथ ही कोटा व मस्तूरी विधानसभा में भी हुआ आयोजन।

दीपक बैज ने कार्यकर्ताओं को किया चार्ज
प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष दीपक बैज ने कहा कि संकल्प शिविर का मकसद है कि हमारा एक-एक कार्यकर्ता इस शिविर के माध्यम से कांग्रेस सरकार की योजनाओं को जनता तक पहुंचाये और संकल्प लेकर जाए। छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार पुनः बनाना है और गांव गरीब लोगों की सेवा करना है। छत्तीसगढ़ में कांग्रेस सरकार का साढे चार साल पूरा हुआ। भाजपा के 15 साल की सरकार में सिर्फ और सिर्फ झूठ और फरेब की राजनीति चला है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *