United Airlines 7 flights canceled 364 delayed due to software issue in america

सॉफ्टवेयर में आई एक गड़बड़ी और अमेरिका में हवाई जहाज नहीं भर सके उड़ान!

कंप्‍यूटर में आई एक गड़बड़ी की वजह से अमेरिका की प्रमुख ‘यूनाइटेड एयरलाइंस’ को देशभर में अपनी उड़ानों को रोकना पड़ गया। एबीसी न्यूज की रिपोर्ट में कहा गया है कि एक घंटे बाद हालात सुचारू हो सके। घटना मंगलवार रात की है। सॉफ्टवेयर इशू के चलते यूनाइटेड एयरलाइंस की 7 उड़ानें रद्द की गईं, जबकि 364 फ्लाइट्स में देरी हुई। हालांकि जो फ्लाइट्स टेक ऑफ कर गई थीं, उनमें कोई दिक्‍कत नहीं आई। 

‘यूनाइटेड एयरलाइंस’ ने इस समस्‍या की जानकारी सोशल मीडिया प्‍लेटफॉर्म एक्‍स के जरिए शेयर की। एक पोस्‍ट में उसने कहा कि हम सिस्‍टम में आए एक इशू का सामना कर रहे हैं। सभी विमानों को हवाई अड्डों पर रोका जा रहा है। जो फ्लाइट्स टेकऑफ कर गई हैं वो योजना के अनुसार आगे बढ़ रही हैं। एयरलाइंस ने यात्रियों से धैर्य बनाए रखने की अपील करते हुए कहा कि जल्‍द से जल्‍द समस्‍या को दुरुस्‍त करने पर काम हो रहा है। 
 

इस पोस्‍ट के बाद एक और पोस्‍ट में यूनाइटेड एयरलाइंस ने बताया कि उसने तकनीक से जुड़ी समस्‍या को सुलझा लिया है। उड़ानें दोबारा शुरू हो गई हैं। एयरलाइन की ओर बताया गया कि वह उन यात्रियों से संपर्क में है, जिनकी फ्लाइट्स कैंसल करनी पड़ीं। 

बताया जाता है कि सॉफ्टवेर अपडेट की वजह से एयरलाइन का टेक्‍नॉलजी सिस्‍टम स्‍लो हो गया।  एक रिपोर्ट के अनुसार, यूनाइटेड एयरलाइंस ने यह कन्‍फर्म किया कि उसके सिस्‍टम पर कोई साइबर अटैक नहीं हुआ है। तकनीकी गड़बड़ी की वजह से फ्लाइट्स के कैंसल होने का यह पहला मामला नहीं है। दुनियाभर में खासकर अमेरिका और यूरोपीय देशों में ऐसे वाकये होते हैं। 

इन देशों की ज्‍यादातर आबादी हवाई सफर करती है, इसलिए प्रभावितों की संख्‍या ज्‍यादा होती है। बीते 28 अगस्‍त को ही यूनाइटेड किंगडम के एयर ट्रैफ‍िक कंट्रोल सिस्‍टम में तकनीकी समस्‍या की वजह से 500 से ज्‍यादा उड़ानों को कैंसल करना पड़ा था। 
 





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *