भिलाई के पीपी यार्ड में सीबीआई की दबिश:3 सदस्यीय टीम ने 10 घंटे तक खंगाले दस्तावेज, दफ्तर किया सील

छत्तीसगढ़ दुर्ग जिले में भिलाई 3 पुरैना में रेलवे का बहुत बड़ा पीपी यार्ड बना हुआ है। इस यार्ड में सीबीआई की तीन सदस्यीय टीम ने दबिश दी। टीम ने 10 घंटे तक सभी रिकॉर्ड खंगालने और कर्मचारियों से पूछताछ करने के बाद वहां के दफ्तर को सील कर दिया है। बताया जा रहा है कि गुरुवार को सीबीआई के और भी अधिकारी यहां पहुंचेंगे और दफ्तर को खोलकर दस्तावेजों की बारीकी से जांच करेंगे।

जानकारी के मुताबिक भिलाई-3 के पीपी यार्ड रेलवे साइड में बुधवार सुबह 10 से 11 बजे के बीच सीबीआई की 3 सदस्यों की टीम पहुंची थी। टीम ने यहां पहुंचते ही ड्यूटी पर मौजूद सभी अधिकारियों और कर्मचारियों को बाहर से अंदर और अंदर से बाहर जाने के लिए मना कर दिया। इसके बाद उन्होंने एक एककर सभी जिम्मेदार अधिकारियों से पूछताछ की। लगभग 10 घंटे से अधिक समय तक पूछताछ करने के बाद उन्होंने दफ्तर को सील किया और लौट गए। कहा जा रहा है कि गुरुवार को फिर से सीबीआई की टीम यहां पहुंचेगी और अपनी जांच को आगे बढ़ाएगी।

पीपी यार्ड में वेगन मरम्मत से लेकर चलते हैं अन्य कार्य - Dainik Bhaskar

पीपी यार्ड में वेगन मरम्मत से लेकर चलते हैं अन्य कार्य

साइट इंचार्ज के दफ्तर में खंगाल रहे दस्तावेज

सीबीआई के अधिकारियों ने पीपी यार्ड के साइड इंचार्ज के दफ्तर व दूसरे कार्यालय में मौजूद दस्तावेजों को खंगाला। सुबह से लेकर देर रात तक टीम पीपी यार्ड में मौजूद रही। यहां के इंचार्ज छुट्टी थे, इसलिए उनकी गैर मौजूदगी में दूसरे अधिकारियों के समक्ष दस्तावेज खंगाले जाते रहे। इसके साथ-साथ पूछताछ भी की गई।

दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे का भिलाई तीन स्थित पीपी यार्ड - Dainik Bhaskar

दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे का भिलाई तीन स्थित पीपी यार्ड

सभी शिफ्ट वालों से एक एक कर की पूछताछ

रेलवे के इस साइड में लगातार काम चलता है। इसलिए सीबीआई ने सिर्फ मॉर्निंग शिफ्ट ही नहीं बल्कि अन्य शिफ्ट में ड्यूटी आने वाले सुपरवाइजरों से एक एक करके पूछताछ की। सीबीआई ने उनसे वे कौन-कौन से काम को करवाते हैं जैसे सवाल पूछे। नाइट शिफ्ट के सुपरवाइजरों से जानकारी लेने के बाद वो चले गए।

पीपी यार्ड में होता है यह काम

रेलवे के पीपी यार्ड भिलाई-3 में मटीरियल लाना व लेकर जाना, वेगन मरम्मत, वाहन को दफ्तर में लगाने का काम किया जाता है। सीबीआई इन कामों के संबंध में जानकारी लेने पहुंची है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *