Headlines

CM ने परिवर्तन यात्रा को बताया दिखावे की यात्रा:भूपेश बघेल ने कहा- छत्तीसगढ़ के भाजपा नेता केवल डांट खाने का काम कर रहे

दुर्ग दौरे के दौरान भिलाई पहुंचे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भाजपा पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि भाजपा बड़े नेताओं के आने पर भी भीड़ नहीं जुटा पा रही है। इसको लेकर छत्तीसगढ़ के बीजेपी नेता सिर्फ डांट खाने का काम कर रहे हैं।

भूपेश बघेल मंगलवार देर शाम भिलाई पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने कहा कि भाजपा के सारे कार्यक्रम टांय-टांय फिस हो रहे हैं। अमित शाह आए नहीं, स्मृति ईरानी वापस चली गईं। वहां भीड़ जुट नहीं रही। अमित शाह से लेकर जितने भी नेता आ रहे वो यहां के नेताओं को डांटने का काम कर रहे हैं।

कार्यक्रम में मौजूद लोग व मंचासीन नेता

कार्यक्रम में मौजूद लोग व मंचासीन नेता

सीएम ने बीजेपी की परिवर्तन यात्रा को महज दिखावे की यात्रा बताया। उन्होंने पूरी यात्रा को फ्लॉप शो बताया। उनके मुताबिक जिस तरीके से परिवर्तन की बात की जा रही है। वैसा परिवर्तन छत्तीसगढ़ भाजपा में दिखाई नहीं दे रहा है। यही कारण है कि बड़े नेता यहां के नेताओं से नाराज चल रहे हैं।

छात्र छात्राओं के साथ सेल्फी लेते मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

छात्र छात्राओं के साथ सेल्फी लेते मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

महिला आरक्षण बिल पर उन्होंने कहा कि वो भी ये बातें मीडिया के माध्यम से जान रहे हैं। अभी तो बिल सिर्फ पेश हुआ है। उसमें किन बातों को शामिल किया गया है वो लोकसभा सदस्य ही बता पाएंगे। आने वाले समय में ही पता चलेगा कि उसमें क्या नियम हैं। उसके बाद ही उस बिल पर चर्चा होगी।

वन नेशन वन इलेक्शन कांग्रेस का बिल

वन नेशन वन इलेक्शन वाली बात को लेकर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि यह बिल भी सिर्फ एक छलावे बाजी के अलावा कुछ नहीं है। यह कांग्रेस का बिल है। इसे कांग्रेस के शासनकाल में पेश किया जा चुका था। राज्यसभा से पहले ही पास हो चुका है ये बिल। अब इसे आगे बढ़कर भाजपा वाह-वाही लूटना चाह रही है, जो की हो नहीं पाया। बिल सबसे पहले किसने लाया ये जनता जान चुकी है।

करोड़ों के विकास कार्यों की दी सौगात

कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सबसे पहले भिलाई सेक्टर 1 नेहरु हाऊस ऑफ कल्चरर भवन पहुंचे। भिलाई निगम में 68.75 करोड़ रुपए की लागत के 49 कार्यों का लोकार्पण और भूमिपूजन किया। इसके साथ ही मिनी स्टेडियम में आयोजित कार्यक्रम के दौरान 25 करोड़ 50 लाख रूपए की लागत के 20 कार्यों का लोकार्पण और 43 करोड़ 24 लाख रुपए की लागत के 29 कार्यों का भूमिपूजन किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *