Headlines

Mobile internet services suspended in Manipur for 5 days what is the reason know

Manipur : 5 दिनों के लिए मणिपुर में मोबाइल इंटरनेट बंद, क्‍या है वजह? जानें

Mobile internet suspended in Manipur : नॉर्थ-ईस्‍ट के राज्‍य मणिपुर में एक बार फ‍िर मोबाइल इंटरनेट सेवाओं को सस्‍पेंड करने का आदेश जारी किया गया है। पीटीआई की रिपोर्ट के अनुसार एक अधिसूचना में कहा गया है, ‘‘मणिपुर सरकार ने राज्य के अधिकार क्षेत्र में वीपीएन के माध्यम से मोबाइल इंटरनेट डेटा सेवाओं, इंटरनेट/डेटा सेवाओं को तत्काल प्रभाव से 1 अक्टूबर 2023 की शाम 7:45 बजे तक सस्‍पेंड करने का निर्णय लिया है।
 

क्‍या है वजह?  

मणिपुर में मोबाइल इंटरनेट सेवाएं बंद करने की प्रमुख वजह वहां हो रही हिंसा को बताया जा रहा है। रिपोर्ट के अनुसार, इंफाल घाटी में दो युवकों की हत्या के खिलाफ प्रदर्शन कर रही भीड़ पर मंगलवार को पुलिस द्वारा लाठीचार्ज किए जाने के कुछ घंटे बाद मणिपुर सरकार ने अगले 5 दिनों के लिए इंटरनेट सेवाओं पर फिर से प्रतिबंध लगा दिया।

इंफाल घाटी में दो युवकों की हत्या के खिलाफ प्रदर्शन कर रही भीड़ पर पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़े और लाठीचार्ज किया, जिसमें 45 से अधिक छात्र घायल हो गए। इससे पहले मई महीने की शुरुआत में मणिपुर में जातीय हिंसा भड़कने के कारण इंटरनेट सेवाएं सस्‍पेंड कर दी गई थीं। 4 महीने से अधिक समय के बाद 23 सितंबर से वहां इंटरनेट सर्विसेज बहाल हो पाई थीं। 

इसके अलावा एक ओर नोटिफ‍िकेशन में कहा गया है कि राज्‍य के सभी सरकारी और निजी स्कूल बुधवार और शुक्रवार को बंद रहेंगे। गौरतलब है कि दो युवकों के शवों की फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हुई थी, जिसके बाद इंफाल के स्कूलों और कॉलेजों के छात्रों ने रैली निकाली। उनकी मांग थी कि हत्‍या में शामिल आरोपियों को गिरफ्तार किया जाए। बताया जाता है कि रैली में शामिल युवा मुख्‍यमंत्री सचिवालय की ओ बढ़ रहे थे। उन्‍हें रोकने के लिए पुलिस ने लाठीचार्ज किया और आंसू गैसे के गोले छोड़े। 

हालात के मद्देनजर इंटरनेट सेवाओं को सस्‍पेंड किया गया है। 
 

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

संबंधित ख़बरें



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *