धान खरीदी की अंतर राशि प्रति क्विंटल 917 रु. शीघ्र होंगे जारी , 48 घंटे के भीतर खाते

रायपुर – प्रदेश के माननीय मुख्य मंत्री ने धान खरीदी की अंतर राशि के सन्दर्भ में एक बार फिर बयान जारी किया है। उन्होंने कहा कि किसानों के धान खरीदी की अंतर राशि प्रति क्विंटल 917 रु. सभी किसानों के खाते में एकमुश्त बहुत जल्द जमा की जाएगी। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार किसानों की हितैषी सरकार है। हमारी सरकार मोदी गारंटी में की गई सभी वादों को जल्द पूरा करेगी।

कोरिया जिले में झुमका जल महोत्सव में भाग लेने पहुंचे मुख्यमंत्री श्री विष्णुदेव साय ने इस अवसर पर यहाँ 500 से भी अधिक एकड़ में फैले झुमका जलाशय की शिकारा बोट पर बैठकर बोटिंग किया। यहाँ के प्राकृतिक सौंदर्य की संभावनाओं को देखते हुए मुख्य मंत्री ने झुमका तथा घुनघुट्टा जलाशय को पर्यटन क्षेत्र बनाने की घोषणा किए। साथ ही कोरिया में नालंदा परिसर बनाने की घोषणा किए।

917 रु. मिलेगा प्रति क्विंटल धान बोनस

ज्ञाता हो कि प्रदेश मवे 01 नवमबर 2023 से समर्थन मूल्य पर धान की खरीदी की जा रही है। इस विपणन वर्ष 2023 – 24 में किसानों से 3100 रु. की दर से प्रति क्विंटल की दर से धान खरीदी किया जा रहा है। साथ ही घोषणा के अनुरूप एक एकड़ पर किसानों से 21 क्विंटल धान खरीदी की जा रही है। वर्तमान में समर्थन मूल्य 2183 रु. के आधार पर किसानों को भुगतान हो रहा है। किसानों को प्रति क्विंटल 917 रु. धान खरीदी की अंतर राशि जल्द से जल्द भुगतान किया जायेगा।

महिलाओं को मिलेंगे 12000 रु.

राज्य में प्रदेश की विवाहित महिलाओं को प्रति माह 1000 रु. के हिसाब से वर्ष में 12000 रु. महतारी वंदन योजना के तहत भुगतान किया जायेगा। महतारी वंदन योजना को केबिनेट से मंजूरी मिल गई है। अब इस योजाना को बहुत जल्द प्रारम्भ की जाएगी। महतारी वंदन योजना के तहत प्रदेश के विवाहित , विधवा , तलाकशुदा एवं परित्यकता महिलाएं जिनकी आयु 01 जनवरी 2024 की स्थिति में 21 वर्ष पूर्ण हो गई है , वह इस योजना हेतु आवेदन कर सकता है।

धान खरीदी की राशि 48 घंटे के भीतर

किसानों से समर्थन मूल्य पर धान की खरीदी की जा रही है। किसानों से धान खरीदने के बाद उनके खाते में 48 घंटे के भीतर राशि जारी कर दी जा रही है। वर्तमान में प्रति क्विंटल 2183 रु. भुगतान किया जा रहा है। लेकिन सरकार द्वारा 3100 रु. प्रति क्विंटल के हिसाब से राशि दी जाएगी। प्रति क्विंटल जो 917 रु. अंतर राशि है उसे किसानों के खाते में एकमुश्त जमा की जाएगी। राज्य सरकार किसानों को अब तक धान के बदले लगभग 30 हजार करोड़ रूपये का भुगतान कर चुकी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *